एक क्लिक यहां भी...

Friday, August 13, 2010

हरिशंकर परसाई का महत्वपूर्ण योगदान

हिंदी साहित्य में व्यंग्य को केंद्र में लाने और व्यापकता प्रदान करने में हरिशंकर परसाई का महत्वपूर्ण योगदान है। उनकी पुण्यतिथि 11 अगस्त पर श्रद्धांजलि स्वरूप उनके दो व्यंग्य- मुण्डन और प्रेमियों की वापसी

1 comment:

  1. अच्छी प्रस्तुती के लिये आपका आभार


    खुशखबरी

    हिन्दी ब्लाँग जगत के लिये ब्लाँग संकलक चिट्ठाप्रहरी को शुरु कर दिया गया है । आप अपने ब्लाँग को चिट्ठाप्रहरी मे जोङकर एक सच्चे प्रहरी बनेँ , कृपया यहाँ एक चटका लगाकर देखेँ>>

    ReplyDelete

गूगल बाबा का वरदान - हिन्दी टंकण औजार

अर्थ...अनर्थ....मतलब की बात !

ब्लॉग एक खोज ....