एक क्लिक यहां भी...

Thursday, April 10, 2008

cavs कुटुंब ,,,,,,,,,,

अब तक जो सोते रहे , सब जायेंगे जाग
cavs वालों का निकला , नया नवेला ब्लाग
लेकर अपनी ढपली तुम, खूब अलापो राग
अपने हाथों से लिखो , इस पर अपना भाग

सबके हित पहिले पहिल, बना cavs संचार
आओ मिल कर एक हो , अपना ये परिवार
पहचानो अपनी प्रतिभा को , दो उसको आकार
इक दिन तुमको मानेगा , ये सारा संसार

आओ लें संकल्प हम , हवन ये चलता रहे
सृजन और साहस का , दीप ये जलता रहे
चित्त में हो शान्ति ! उर में निर्मलता रहे
अपना cavs कुटुंब ये , फूलता फलता रहे

हिमांशु बाजपेयी "हिम"

mabj 2-nd sem

3 comments:

  1. umda hai.........
    samooh ka prayaas samooh kee safaltaa....... samooh jo samaaj hai aur badaa samooh jo desh hai duniya hai !!
    CAVS kee duniyaa ka baahri duniya se sambandh sthapit karega ..... sanchaar karega CAVS Sanchar !

    ReplyDelete
  2. हमें यह देखकर काफी खुशी हुई कि हमारा छोटा भाई
    ,कैव्स के शुरविर ब्लाँग को अपडेट कर रहा है। आप सब अच्छी तरह से जानते है कि टेलिवीजन चैनल में कितनी व्यस्तता होती है। फिर भी जब भी मुक्षे समय मिलता है .....मैं अपने इस ब्लाँग पर वीजीट करता हूँ ।और मैं देखता हू कि आप सभी ने तमाम देशी-विदेशी घटनाओं का इस पर जिक्र किया है ।देखकर काफी खुशी होती है ।मैं एक गुजारिश करता हूँ कि आप इस पर व्यापार जगत की खबरों की भी चर्चा करें ।
    आपका शुभेच्छु
    मनीष सांडिल्य जी24 धंटे छत्तीसगढ़ रायपुर....

    ReplyDelete
  3. अरे ये अपने माखनलाल का केव्स है ना???वाह वाह मज़ा आ गया दोस्त.....आप लोग अपने केव्स का नाम रोशन करते रहो...बहुत बहुत बधाई एवं शुभकामना तुम लोगों को.
    जयराम दास.
    (MABJ 03 Batch)

    ReplyDelete

गूगल बाबा का वरदान - हिन्दी टंकण औजार

अर्थ...अनर्थ....मतलब की बात !

ब्लॉग एक खोज ....