एक क्लिक यहां भी...

Wednesday, April 9, 2008

परिचय

माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय के दृश्य श्रव्य अध्ययन केन्द्र ( Centre for Audio Visual Studies ) के विद्यार्थियों द्वारा रचनात्मकता की दिशा में एक पहल के रूप में इस ब्लॉग का शुभारम्भ किया जा रहा है। इस ब्लॉग का प्रमुख लक्ष्य विद्यार्थियों के भीतर की रचनात्मकता और सृजन क्षमता एवं उनके अन्दर के पत्रकार को दुनिया के सामने लाना है। उनकी प्रतिभा को एक मंच प्रदान करना है और नए युग में वेब पत्रकारिता के संभावनाओं को द्रष्टिगत रखते हुए ब्लॉग सबसे तीव्र व सरल जरिया है। CAVS संचार विश्वविद्यालय और विभाग की गतिविधियों तथा सूचनाओं का भी माध्यम बने ऐसी हमारी सोच है।
पत्रकारिता विश्वविद्यालय के कुलपति के रूप में प्रसिद्ध पत्रकार अच्युतानंदन मिश्र जी का वरदहस्त एवं विभागाध्यक्ष के रूप में विद्वान् डाक्टर श्रीकांत सिंह का मार्गदर्शन द्रश्य श्रव्य अध्ययन केन्द्र को प्राप्त है। इसके साथ ही श्री महावीर सिंह, श्री संजीव गुप्ता, श्री बी वी देशपांडे तथा श्री आलोक चटर्जी जैसे कुशल व सिद्धहस्त अध्यापकों का सानिध्य भी विद्यार्थियों को प्राप्त है। विश्वविद्यालय सन् १९९० में मध्य प्रदेश विधानसभा के एक्ट १५ के द्वारा स्थापित हुआ। पंडित माखनलाल चतुर्वेदी जैसे जुझारू स्वतन्त्रता सेनानी और मूर्धन्य पत्रकार के नाम पर स्थापित हमारा विश्वविद्यालय का विभाग पत्रकारिता के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान दे रहा है। यहाँ के विद्यार्थियों ने पत्रकारिता के क्षेत्र में देश भर में उल्लेखनीय भूमिका निभाई है एवं इस दिशा में सतत प्रगतिशील हैं। सूचना विस्फोट के के इस युग में इलेक्ट्रोनिक माध्यमो की केन्द्रीय भूमिका को देखते हुए द्रश्य श्रव्य अध्ययन केन्द्र निरंतर उत्कृष्ट योग देने को प्रतिबद्ध एवं प्रयासरत है।
हम कृतज्ञ अनुभव करेंगे यदि हमारा प्रयास विश्वविद्यालय और विभाग के उद्देश्यों की प्राप्ति में किंचित भी सहायक हो।

- सभी विद्यार्थी ( द्रश्य श्रव्य अध्ययन केन्द्र )
संकलन : प्रतीति पांडे ( एम् ऐ बी जे - द्वितीय सेमेस्टर )

3 comments:

  1. ब्लाग अच्छा है । कंटेंट भी बढिया हैं । बस ज़रुरत है लेखन में वज़न और गंभीरता की

    ReplyDelete
  2. बहुत ख़ुशी हुई अपने डिपार्टमेंट के नाम पर ब्लॉग देख कर ! चाहूँगा कि विश्वविद्यालय के सभी छात्र छात्राए इस मंच पर अपने उद्गगार व्यक्त करे !

    ReplyDelete
  3. बहुत ख़ुशी हुई अपने डिपार्टमेंट के नाम पर ब्लॉग देख कर ! चाहूँगा कि विश्वविद्यालय के सभी छात्र छात्राए इस मंच पर अपने उद्गगार व्यक्त करे !

    ReplyDelete

गूगल बाबा का वरदान - हिन्दी टंकण औजार

अर्थ...अनर्थ....मतलब की बात !

ब्लॉग एक खोज ....