एक क्लिक यहां भी...

Sunday, June 7, 2009

सम्पूर्ण क्रांति के वीरों को पेंशन.....

सम्पूर्ण क्रांति के नायको को पेंशन दी जायेगी.... यह ख़बर जे.पी.आन्दोलन के कर्मवीरों के लिए खुश खबरी वाली है परन्तु आशंका जताई जा रही है की ग़लत सलत लोगों को जोड़ दिया जाएगा.... एवं सही में समर्पण करने वाले लोगो को खास लाभ नही मिल पायेगा वह जायज ही है।
दरअसल होता यह है की जो वाकई सेनानी हैं वे किसी पुरस्कार या सम्मान के मोहताज नही होते। लेकिन जो लोग इस फेरे में ही रहते हैं की कहीं से कोई व्यवस्था लगे की कुछ आमदनी हो वे सब काफी खुश हो गये होंगे।खासकर सेनानी बनने के मामले में, तब तो आज कुछ लोग ऐसे भी हैं जो जन्मे थे १९४७ में परन्तु स्वतंत्रता सेनानी की पेंशन ले रहे हैं इसलिए ध्यान देने की बात ये होगी की सेनानियों की सूची ऐसी बने जिसमे जदयू -भाजपा के कार्यकर्त्ताओं को तवज्जो न दी जाए।
यूँ तो जो लोग जेपी के साथ नेतृत्व सम्भाल रहे थे वे अपनी जननी सेवा का पुरस्कार पा ही रहे हैं , वह चाहे कहीं के मुख्यमंत्री बनकर हो या मंत्रिमंडल से लेकर सामाजिक उत्तरदायित्व का मामला हो। परन्तु जो लोग सेना में शामिल थे,जिनकी चर्चा तक भी नही होती है वे लोग कष्ट झेलेंगे यदि ईमानदारी नही बरती गई तो। इसलिए न सिर्फ़ सत्ताधारी पार्टी के लोग बल्कि सभी दलों को इस मुद्दे पर सामंजस्य बैठाते हुए सही व्यक्तियों का चुनाव इस कार्य के लिए करना चाहिए।

अधिनाथ झा
(लेखक फिलहाल माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय से विज्ञापन और जनसंपर्क में स्नातकोत्तर उपाधि के लिए अध्ययनरत हैं....और नियमित ब्लॉगर हैं...)

1 comment:

  1. झा साहब क्या केवल जद यू और भाजपा में ही ऐसे लोग हैं जो लाभ ढूढ़ते रहते है ऐसा नहीं है और भी लोग है जो लाभ का पद या हर जगह लाभ ढूढ़ते रहते हैं आपकी चिंता जायज है पर ऐसे सभी लोगो पर नजर रखनी होगी फ़िलहाल अच्छा लिखा खुशी हुई .

    ReplyDelete

गूगल बाबा का वरदान - हिन्दी टंकण औजार

अर्थ...अनर्थ....मतलब की बात !

ब्लॉग एक खोज ....