एक क्लिक यहां भी...

Saturday, January 10, 2009

हम भी कार्टून, साल भी कार्टून....

आज की श्रृंखला में आज हमने सोचा कि कुछ अनूठा किया जाए तो हम आज वाकई एक अभिनव प्रयास लेकर आए हैं। हमने सबसे पहले एक चित्र श्रृंखला प्रस्तुत की थी .....आज एक कदम आगे जा कर हम बीते हुए साल को कुछ रोचक कार्टून के रूप में पेश करेंगे ....हमने प्रयास किया है कि पिछले साल की प्रमुख घटनाएं जिनको कार्टूनिस्टों के हमलों का सामना करना पड़ा उन्हें आपको दिखायें, हमने इकट्ठे किए हैं साल के कुछ सबसे रोचक व्यंग्य चित्र सो मज़ा लें ....महीनेवार
जनवरी २००८


नैनो ने ऐसे सपने दिखाए कि साल भर नींद न आई
न टाटा को, न ममता को, न सिंगूर की जनता को
फ़रवरी 2008

कम्युनिस्टों ने थामा हाथ कैपिटलिस्टों का
सेज़ पर मचा बवाल
मार्च 2008
खाली बैठे आडवाणी ने, वक़्त नहीं किया खराब
पी एम कब बनें क्या पता, लिख डाली किताब
अप्रैल 2008

एक ओर बुंदेलखंड में मरते रहे किसान
नेता रहे खेलते उसपे, राजनीतिक घमासान
मई 2008

पूरे मुल्क में फैली थी भुखमरी, मंहगाई
और सियासतदान ससुरे खाते रहे मलाई

जून 2008
कोशिश कर कर के थके, निकला मुंह से झाग
आरुषि हत्याकांड के न पुलिस को मिले सुराग
जुलाई 2008

नेता अपने बेशरम, सभी जने है बुझाय
पर अबकि ये संसद में नोट दिए लहराय
अगस्त 2008

ख़त्म हुई अपमान की, परम्परा वह ओल्ड
सुशील, विजेंदर और बिंद्रा, जीते ब्रोंज़ और गोल्ड
सितम्बर 2008

कई मरे बम ब्लास्ट में, हुए सैकड़ो चोटिल
बैठ के घर पर, सोलहों सिंगार कर रहे पाटिल
अक्टूबर 2008

डूब गया घर और फ़सल, फैल रहे थे रोग
नेतवा हैलीकाप्टर में, फंसे बाढ़ में लोग
नवम्बर 2008

अमरीका में मच गया देखो क्या हंगामा
जूता बुश के जा पड़ा और जीते ओबामा
दिसम्बर 2008


देश पर हमले से दुनिया ने देखा पाक का सच
क़सम है अबकि किसी तरह से जो वो जाए बच
हमेशा कि तरह उम्मीद तो यही है कि ये आपको पसंद आया होगा

3 comments:

  1. संकलन बहुत बढिया है काटूनिस्‍ट़स का नाम भी दे देते तो और अच्‍छा होता

    ReplyDelete
  2. बेहतरीन संकलन किया है.

    ReplyDelete
  3. bahut khoob sir ...
    jitni taarif ki jaye kam hai ...

    ReplyDelete

गूगल बाबा का वरदान - हिन्दी टंकण औजार

अर्थ...अनर्थ....मतलब की बात !

ब्लॉग एक खोज ....