एक क्लिक यहां भी...

Wednesday, January 14, 2009

छत्तीसगढ़ यात्रा कराने के लिए ..... बरुन को साधुवाद

यह बहुत कम होता है की आप किसी को धन्यवाद देने के लिए पोस्ट लिखें.....इसके लिए आम तौर पर केवल टिप्पणी देकर ही काम चला लिया जाता है पर शायद बरुन ने जो कुछ लिखा और जिस तरह मेरे अनुरोध को स्वीकार कर आगे बढाया वह मेरे लिए एक बड़ा उपहार है और संभवतः पाठकों के लिए भी।
मैंने एक टिपण्णी में इस ब्लॉग का मोडरेटर ही नहीं बल्कि एक सक्रिय पाठक भी होने के नाते बरुन के छत्तीसगढ़ पर पहले लेख पर ही अनुरोध किया था कि अगर उनके लिए सम्भव हो तो वे छत्तीसगढ़ पर एक बरुन श्रीवास्तव विशेष श्रृंखला लिख डालें। क्यूंकि बरुन इस समय ज़ी न्यूज़ के छत्तीसगढ़ चैनल में ही पत्रकार हैं तो उनसे यह अनुरोध जायज़ भी था पर सुखद आश्चर्य यह है कि बरुन ने अपने इतने व्यस्त समय में से कुछ हिस्से निकाल कर अब तक तीन धुँआधार पोस्ट लिख डाली है जिसमे छत्तीसगढ़ के अलग अलग रंग दिखे हैं। इस नाते मुझे लगा कि एक ऐसा राज्य जिस के बारे में तथाकथित नगरिया सभ्यता कम ही जानती है उसके बारे में हमें नई जानकारी मिल रही है।
जब मेरे और बरुन के बीच वैचारिक बहस का दौर चला था तब कई लोगों ने उसे एक लड़ाई का नाम दिया था और उसे बंद करने को कहा था। कुछ लोगों को यह शंका थी कि इससे मेरे और बरुन के व्यक्तिगत संबंधों पर भी असर पड़ेगा तो कुछ ने सहपाठी होने की दुहाई भी दी थी पर मेरे अनुरोध पर बरुन का यह बड़प्पन सबकी शंकाएं निर्मूल साबित करता है।
तो मेरी तरफ़ से बरुन को कोटि साधुवाद....बरुन के इन लेखों को केव्स संचार एक श्रृंखला के तौर पर प्रकाशित कर रहा है। इसके सारे लेख पढने के लिए साइड नेविगेशन में दूसरे क्रम पर छत्तीसगढ़ यात्रा के नाम से एक संपर्क सूची है जिसमे आप क्लिक कर के ये श्रृंखलाबद्ध पोस्ट पढ़ सकते हैंबरुन इंतज़ार है छत्तीसगढ़ पर आपके छत्तीस लेखों के दस्तरख्वान का !

1 comment:

  1. मयंक धन्यवाद आपको मैं अपनी ओर से पूरी कोशिश करूंगा एक बेहतर नज़रियें के साथ कुछ नया लिख सकूं....मैं कोशिश करूंगा मेरा वायदा है।

    ReplyDelete

गूगल बाबा का वरदान - हिन्दी टंकण औजार

अर्थ...अनर्थ....मतलब की बात !

ब्लॉग एक खोज ....