एक क्लिक यहां भी...

Saturday, March 21, 2009

३३ साल और २ महीने लगभग .....

२८ जनवरी १९७६ से २१ मार्च २००९ तक ३३ साल और २ महीने लगभग हो गए हैं.....और निश्चित तौर पर ये इंतज़ार लंबा था, पर आज खल नहीं रहा है क्यूंकि लंबा ही सही ख़त्म हुआ और शानदार तरीके से ख़त्म हुआ। भारतीय टीम ने जीत के लगातार सिलसिले को जारी रखते हुए न्यूज़ीलैंड को १० विकेट से हरा दिया और ऑकलैंड १९७६ और हैमिल्टन २००९ के बीच का केवल एक फासला जो वक़्त का था ख़त्म कर दिया। दरअसल दोनों मैच को अगर तुलना कर के देखें तो काफ़ी मजेदार बातें निकलती हैं।
१९७६ ऑकलैंड में भारतीय टीम के कप्तान तो बिशन सिंह बेदी थे पर पहले मैच में कप्तानी की थी सुनील गावस्कर ने, यह मैच भारत ने ८ विकेट से जीता था और अगर ध्यान से देखें तो काफ़ी हद तक इस मैच की स्थितियां भी हैमिल्टन २००९ से मिलती जुलती थी।
इस टेस्ट में न्यूज़ीलैंड ने पहली पारी में २६६ रन बनाए थे तो हाल के मैच में उसने २७९ बनाए,
भारत ने उस मैच में अपनी पहली पारी में ४१४ रन बनाए थे जिसमे सुनील गावस्कर और सुरिंदर अमरनाथ के शतक शामिल थे तो इस मैच में भारत ने ५२० रन बनाए जिसमे सचिन तेंदुलकर के शानदार १६० रन और गौतम गंभीर ने ७२ रन बनाए।
दूसरी पारी में १९७६ के मैच में न्यूज़ीलैंड ने २१५ रन बनाए तो इस मैच में न्यूज़ीलैंड ने दूसरी पारी में भी २७९ ही रन बनाए ......
इस तरह १९७६ में भारत को ६८ रन का लक्ष्य मिला और आज सिर्फ़ ३९ रन का.....
उस मैच में ई ऐ एस प्रसन्ना ने दूसरी पारी में विकेट लेकर न्यूज़ीलैंड को ढहा दिया तो इस मैच में यही काम हरभजन सिंह ने किया विकेट लेकर और यह भी संयोग कि दोनों ही ऑफ़ स्पिनर हैं।
उस मैच में सातवें क्रम पर उतर कर मोहिंदर अमरनाथ ने ६७ रन बनाए थे तो इस मैच में नवें स्थान पर उतर कर ज़हीर खान ने ५१ रन बनाए।
बहुत कम लोग यह जानते हैं कि तीन बड़े भारतीय क्रिकेटरों ने ऑकलैंड टेस्ट १९७६ में अपना टेस्ट डेब्यू यानि कि अपना पदार्पण किया था और ये थे सुरिंदर अमरनाथ, सैयद किरमानी और दिलीप वेंगसरकर
खैर आंकड़े बहुत हुए अब समय है जश्न का तो भारतीय टीम के साथ ही जश्न मनाएं.....बधाई हो


1 comment:

  1. प्रिया मित्र,
    भोपाल में एक ब्लॉगर मीट करने का विचार है ,जिसमे हम ब्लोगिंग से जुड़े कई विषयों पर बात कर सकते हैं । इस ब्लॉगर मीट में अपनी उपस्तिथि दर्ज कराने और एजेंडा बनाने में मदद करने हेतु http://www.indiblogger.in/bloggermeet.php?id=34 यहाँ क्लिक कर रजिस्टर कर सकते हैं । हमें उम्मीद है की हम अपने ब्लोगों के लिए कुछ न कुछ ले के ही जायेंगे

    धन्यवाद ,
    मयूर

    ReplyDelete

गूगल बाबा का वरदान - हिन्दी टंकण औजार

अर्थ...अनर्थ....मतलब की बात !

ब्लॉग एक खोज ....