एक क्लिक यहां भी...

Tuesday, October 7, 2008

बात निकलेगी तो दूर तलक जायेगी

पढ़ कर अफसोस हुआ की उत्तर प्रदेश के रहने वाले राज ठाकरे की मानसिकता से प्रेरित हो कर जय छत्तीसगढ़ का नारा बलंद कर रहे हैं .दूसरों को अच्छे पद और नौकरी की नसीहत देने वाले ख़ुद नौकरी के प्यार मे छत्तीसगढ़ के कसीदे पड़ने लगे हैं.मुझे किसी राज्य से कोई बैर नही है पर .लोगों की मानसिकता और डिप्लोमेसी उनकी बातो से ज़ाहिर हो जाती है.अब आप उनसे निश्पच्क्ष्ता की उम्मीद कैसे कर सकते हैं .बात निकलेगी तो दूर तलक जायेगी

2 comments:

  1. तुम तो उन सबको पहले से जानते हो ..... क्या डिप्लोमेसी के अलावा भी कुछ उम्मीद कर रहे हो ?
    छोड़ो यार कट्टरपंथी सारे एक से हैं ...... तुम्हारे यहाँ के या हमारे यहाँ के !

    ReplyDelete

गूगल बाबा का वरदान - हिन्दी टंकण औजार

अर्थ...अनर्थ....मतलब की बात !

ब्लॉग एक खोज ....